2021-03-04
a
ताज़ा खबरेंदेश

कोरोना संक्रमितों की जांच कर रहे स्वास्थ्यकर्मियों की भी होगी जांच: दिल्ली सरकार

नई दिल्ली। दिल्ली में एक मोहल्ला क्लीनिक और चार अन्य लोग COVID-19 पॉजिटिव पाए गए हैं। ये सभी सऊदी अरब से आई एक कोरोना पॉजिटिव महिला के संपर्क में आए थे। डॉक्टर की पत्नी और बेटी भी कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं।
दिल्ली में कोरोना वायरस संक्रमितों की संख्या बढ़कर 36 हो गई है. एक मोहल्ला क्लीनिक और चार अन्य लोग COVID-19 पॉजिटिव पाए गए हैं। ये सभी सऊदी अरब से आई एक कोरोना पॉजिटिव महिला के संपर्क में आए थे। डॉक्टर की पत्नी और बेटी भी कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं।

जाहिर है इस बीमारी के संक्रमण को रोकने के लिए देश के सभी 548 जिलों में पहले से लॉकडाउन है. लोगों को बाहर निकलने से रोकने के लिए कर्फ्यू भी लगाया गया है जिससे सख्ती से कानून का पालन करवाया जा सके।
गुरुवार को दिल्ली के उपराज्यपाल, मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल समेत सभी बड़े अधिकारियों की एक बैठक बुलाई गई. इस बैठक में उन सभी स्वास्थ्यकर्मियों की जांच कराने का प्रस्ताव रखा गया है जो कोरोना पॉजिटिव मरीजों की देखभाल में जुटे हैं, उनका उपचार कर रहे हैं।
वहीं जरूरी समानों की डिलिवरी करने वाली कंपनियों को राहत देते हुए सीएम केजरीवाल ने कहा है कि अगर किसी कंपनी को अपने डिलिवरी ब्यॉय के लिए कर्फ्यू पास चाहिए तो वो 1031 नंबर पर घर बैठे ही बात करें। उनके व्हाट्स एप नंबर पर ही कर्फ्यू पास भेज दिया जाएगा।

जाहिर है लॉकडाउन के बाद से दिल्ली में मदर डेयरी की कई दुकानों और राशन की स्थानीय दुकानों के बाहर भी लोगों की कतारें देखी जा रही हैं। जिसको लेकर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि बंद के दौरान जरूरी वस्तुओं की उपलब्धता और सेवाएं सुनिश्चित की जाएंगी और ऐसे में लोगों को अफरा-तफरी फैलाने की जरूरत नहीं है।
उपराज्यपाल अनिल बैजल की मौजूदगी में केजरीवाल ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘हम बंद के दौरान जरूरी वस्तुओं की उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए सब्जी विक्रेताओं, राशन दुकानदारों के लिए ई-पास जारी करेंगे” बैजल ने कहा, ‘‘हम दिल्ली में बंद का प्रभावी क्रियान्वयन सुनिश्चित करेंगे।”

सीएम केजरीवाल की बड़ी बातें

मोहल्ला क्लीनिक बंद नहीं होंगे. क्योंकि इसमें बहुत लोग जाते हैं। एक डॉक्टर के पॉजिटिव पाए जाने के बाद इस तरह की अफवाह फैल रही है कि अब सारे मोहल्ला क्लीनिक बंद हो जाएंगे जो पूरी तरह गलत है।

उपराज्यपाल, पुलिस कमिश्नर और अन्य सभी बड़े अधिकारियों के साथ आज हमने बैठक की। इस दौरान हमने लॉकडाउन पर चर्चा की. अब तक लॉकडाउन सफल रहा है लेकिन सभी एसडीएम और एसीपी सुनिश्चित करें कि उनके इलाके में दूध-सब्जी की दुकानें खुली रहें।

हमने आपको दूध-सब्जी और दवाई जैसी सभी सुविधा सुनिश्चित कराने की भी कोशिश है। आप तक सभी सामान पहुंच सके इसके लिए प्रयास कर रहे हैं। आवश्यक सामानों की डिलिवरी करने वाले, जैसे कि- रेहड़ी वाले, सब्जी वाले, राशन वाले या दवाई वाले उन सबको पास देने की व्यवस्था की जा रही है।

अगर कोई दवाई फैक्ट्री वाले काम करना चाहते हैं और उन्हें अपने कर्मचारियों के लिए कोई दिक्कत आ रही है तो उन्हें हमारे पास आने की कोई जरूरत नहीं है। वो 1031 नंबर पर बात कर जानकारी ले सकते हैं कि उन्हें कर्फ्यू पास कैसे मिलेगा? व्हाट्स एप नंबर पर ही पास आ जाएगा।

मैंने उनसे यह भी कहा है कि अगर कोई शख्स दूध लेकर जा रहा है और उसके पास कर्फ्यू पास नहीं है तो भी उसे जाने दिया जाए।

इस तरह की कोई भी वस्तु जो लोगों के लिए आवश्यक है, उन्हें ले जाने दिया जाए। पुलिस कमिश्नर से हमने कहा है कि पास बनाने की प्रक्रिया जारी रखें लेकिन तब तक दूध, सब्जी, फल आदि वालों को रोका ना जाए।

अगर आवश्यक वस्तुओं से संबंधित कोई फैक्ट्री वाला काम जारी रखना चाहता है तो उन्हें काम करने की इजाजत दी जाएगी।
यह समय अपनी पीथ थपथपाने का नहीं है। यह वक्त काम करने का है क्योंकि हमने दूसरे देशों में देखा है कि कैसे यह तेजी से फैलता है। मोटामोटी लोग अपने घरों में हैं लेकिन अगर कोई अब भी बेवजह बाहर निकल रहे हैं तो उनसे अपील है कि वो अपने घरों में बैठें।

2021-03-04
a

Related Articles

Back to top button
x

COVID-19

India
Confirmed: 33,347,325Deaths: 443,928