देश

रक्षा बंधन पर कई जगह पर भारी बारिश का अलर्ट

नई दिल्ली। मौसम विभाग ने रक्षा बंधन के दिन भी कई जगहों पर भारी बारिश और कहीं मौसम खराब रहने का पूर्वानुमान लगाया है। 3 अगस्त यानी रक्षा बंधन के साथ ही सावन का महीना खत्म हो जाएगा। और कहा जाता है कि सावन में मौसम का कुछ नहीं मालूम, कभी धूप तो कभी छाँव। ऐसे में पिछला महीना मिलाजुला रहा। देश में कई जगहों पर भारी बारिश हुई। बाढ़ ने भी दस्तक दी। अब जहां आगे भी फिलहाल मौसम खराब रहने का अलर्ट जारी हुआ है। हालांकि, सावन महीने के बाद देखा गया है कि फिर से गर्मी अपने पैर पसारती है। मौसम विभाग ने रक्षाबंधन के दिन भी कई जगहों पर भारी बारिश और कहीं मौसम खराब रहने का पूर्वानुमान लगाया है। मौसम की जानकारी देने वाली संस्था स्काईमेट ने भी आने वाले कुछ समय में भारी बारिश से संबंधित बुलेटिन जारी किया है।

skymetweather के अनुसार, मानसून की अक्षीय रेखा गंगानगर, पिलानी, ग्वालियर, बांदा, चुर्क, हजारीबाग और बहरामपुर होते हुए मेघालय और मिज़ोरम तक बनी हुई है। वहीं, मध्य पाकिस्तान पर एक चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र बना हुआ है। साथ ही दक्षिणी राजस्थान और इससे सटे उत्तरी गुजरात के ऊपर भी एक चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र बना हुआ है।

इसके मद्देनजर स्काईमेट ने आने वाले 24 घंटों के लिए मौसमी बुलेटिन जारी करते हुए तटीय कर्नाटक और दक्षिणी कोंकण-गोवा क्षेत्र में अच्छी मानसून वर्षा के साथ कुछ स्थानों पर भारी बारिश होने की संभावना जताई है। वहीं अंडमान व निकोबार द्वीप समूह, केरल और उत्तरी कोंकण-गोवा में भी हल्की से मध्यम बारिश के साथ एक-दो स्थानों पर भारी वर्षा हो सकती है। उधर दक्षिणी छत्तीसगढ़, दक्षिणी ओडिशा, तेलंगाना के कुछ हिस्सों, मराठवाड़ा, दक्षिण-पश्चिमी और दक्षिणी मध्यप्रदेश, दक्षिणी गुजरात, दक्षिणी मध्य महाराष्ट्र, उत्तराखंड, मेघालय और लक्षद्वीप में हल्की से मध्यम बौछारें गिरने की संभावना है। एक-दो स्थानों पर भारी वर्षा भी हो सकती है।

इसके अलावा केरल के बाकी इलाकों, आंतरिक कर्नाटक, तटीय आंध्र प्रदेश, उत्तरी छत्तीसगढ़, उत्तरी ओडिशा और गुजरात के शेष हिस्सों में हल्की वर्षा का अनुमान है। इन भागों में एक-दो स्थानों पर मध्यम वर्षा के आसार हैं। झारखंड, उत्तर प्रदेश, बिहार, गगनीय पश्चिम बंगाल, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड के कुछ हिस्सों, हरियाणा और पंजाब में छिटपुट वर्षा से अधिक की उम्मीद फिलहाल नहीं है। दिल्ली में भी बूंदाबांदी हो सकती है।

Related Articles

Back to top button
x

COVID-19

India
Confirmed: 7,909,959Deaths: 119,014
Close
Close