2021-03-04
a
देश

75 में से 67 सीटों पर भाजपा का कब्जा, समाजवादी पार्टी को सिर्फ 5 सीटें मिली

लखनऊ। उत्तरप्रदेश में जिला पंचायत अध्यक्ष चुनाव में भाजपा ने रिकॉर्ड जीत दर्ज की है। भाजपा को राज्य की 75 में से 65 सीटों पर जीत मिली है। दो सीटों पर भाजपा समर्थित उम्मीदवार जीते हैं। वहीं सपा को 5 सीटें मिली हैं। एक पर उसकी सहयोगी पार्टी रालोद ने कब्जा किया है। प्रतापगढ़ सीट पर राजा भइया की पार्टी विजयी रही है। 2016 के अध्यक्ष चुनाव में सपा ने 63 सीटों पर जीत दर्ज की थी। इससे पहले राज्य के 53 जिलों में जिला पंचायत अध्यक्ष के चुनाव के लिए वोटिंग हुई। मतदान 11 बजे से 3 बजे तक चला। शाम 4 बजे से नतीजे भी आने लगे हैं। लखनऊ, अयोध्या, मथुरा, कुशीनगर, सुल्तानपुर, औरेया, फतेहपुर समेत 44 जिलों में भाजपा प्रत्याशियों ने जीत दर्ज कर ली है। वहीं, राज्य के 22 जिलों में पहले ही उम्मीदवार निर्विरोध विजयी चुने गए थे। इनमें से 21 सीटों पर भाजपा और एक सीट सपा ने कब्जा किया था।

जानिए 53 जिलों में किस पार्टी से कौन जीता :

चंदौली – दीनानाथ शर्मा BJP
हापुड़ – नागर BJP
सुल्तानपुर -उषा सिंह BJP
मिर्जापुर – राजू कन्नौजिया BJP
रायबरेली -रंजना चौधरी BJP
मथुरा -किशन चौधरी BJP
फिरोजाबाद – हर्षिता सिंह BJP
बिजनौर-साकेन्द्र प्रताप सिंह BJP
हमीरपुर -जयंती राजपूत BJP
मुजफ्फरनगर -वीरपाल निर्वाल BJP
सोनभद्र – राधिका पटेल (अपना दल (S)
बलिया -आनंद चौधरी
गाजीपुर – सपना सिंह BJP
उन्नाव – शकुन सिंह BJP
हरदोई- प्रेमावती BJP
कुशीनगर – सावित्री जायसवाल BJP
मैनपुरी- अर्चना भदौरिया BJP
प्रतापगढ़- जनसत्ता पार्टी से माधुरी पटेल
कन्नौज – प्रिया शाक्य BJP
जालौन – घनश्याम अनुरागी BJP
महाराजगंज- रविकांत पटेल BJP
संतकबीर नगर – बलराम यादव (सपा)
लखीमपुर- ओमप्रकाश भार्गव BJP
बदायूं – वर्षा यादव BJP
प्रयागराज- डॉ. वीके सिंह BJP
अमेठी – राजेश अग्रहरि BJP
भदोही- अमित सिंह BJP
बाराबंकी- राजरानी रावत BJP
फर्रुखाबाद – मोनिका यादव BJP
संभल – अनामिका BJP
बस्ती- संजय चौधरी BJP
फतेहपुर – अभय प्रताप उर्फ पप्पू सिंह BJP
शामली- मधु गुज्जर BJP
अलीगढ़- विजय सिंह BJP
जौनपुर- निर्दलीय श्रीकला सिंह
कासगंज- रत्नेश कश्यप BJP
आजमगढ़- विजय यादव सपा
सिद्धार्थनगर- शीतल सिंह BJP
एटा- रेखा यादव सपा
अयोध्या- रोली सिंह मैदा BJP
रामपुर- ख्याली राम लोधी BJP
सीतापुर – श्रद्धा सागर BJP
औरैया- कमल दोहरे
महोबा – जयप्रकाश अनुरागी
फतेहपुर – अभय प्रताप सिंह
कानपुर – स्वप्निल वरुण BJP
कानपुर देहात – नीरज रानी सिंह BJP
अम्बेडकर नगर – श्याम सुंदर BJP
बरेली- रश्मि पटेल BJP
कौशाम्बी – कल्पना सोनकर BJP
हाथरस- सीमा उपाध्याय BJP
देवरिया- गिरीश चंद तिवारी BJP
लखनऊ – आरती रावत BJP
 

21 जिले जहां भाजपा प्रत्याशी निर्विरोध चुने गए :

मेरठ- गौरव कुमार
गाजियाबाद- ममता त्यागी
गौतमबुद्धनगर- अमित चौधरी
बुलंदशहर- डॉक्टर अंशुल तेवतिया
सहारनपुर- मांगेराम
आगरा- आरती भदौरिया
मुरादाबाद- डॉक्टर शेफाली चौहान
अमरोहा- ललित सेंगर
शाहजहांपुर- ममता यादव
पीलीभीत- दलजीत कौर
गोरखपुर- साधना सिंह
गोंडा- घनश्याम मिश्रा
बलरामपुर- आरती त्रिपाठी
बहराइच- मंजु सिंह
श्रावस्ती- दद्दन मिश्रा
वाराणसी- पूनम मौर्या
मऊ- मनोज राय
झांसी- पवन गौतम
ललितपुर- कैलाश निरंजन
बांदा- सुनील पटेल
चित्रकूट- अशोक जाटव
एक सीट जहां से सपा प्रत्याशी निर्विरोध जीते
इटावा- अंशुल यादव
 

वोटिंग अपडेट्स… कहां क्या चल रहा है :

राजा भइया के जिले प्रतापगढ में BJP पर बक्सा लूट के प्रयास का आरोप, अयोध्या में लाठीचार्ज हुआ, रामपुर में 2 सदस्यों का अपहरण

जौनपुर में अपना दल ने धनंजय सिंह की पत्नी श्रीकला सिंह रेड्डी को दिया समर्थन। श्रीकला सिंह निर्दलीय उम्मीदवार हैं। अपना दल के अध्यक्ष प्रत्यशी को लेकर सात सदस्य हैं।
रामपुर में नेता प्रतिपक्ष राम गोविंद चौधरी धरने पर बैठ गए। उन्होंने सपा के दो जिला पंचायत सदस्यों के अपहरण का आरोप लगाया है। इसको लेकर सपाई जोरदार हंगामा कर रहे हैं।
प्रतापगढ़ में भाजपा की जिला पंचायत अध्यक्ष पद प्रत्याशी क्षमा सिंह ने आरोप लगाया कि डीएम और एडीजी प्रयागराज प्रेम प्रकाश जनसत्ता दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजा भैया का सपोर्ट कर रहे हैं। इस दौरान क्षमा सिंह के पति पप्पन सिंह, विधायक धीरज ओझा, भाजपा जिलाध्यक्ष हरीहोम मिश्रा समेत सैकड़ो भाजपाइयों ने मतदान स्थल पर गेट तोड़ने का प्रयास किया। आरोप है कि बक्शा भी लूटने का प्रयास हुआ।
औरैया में सपा ने डीएम और एसपी पर भाजपा के समर्थन में वोटिंग कराने का आरोप लगाया है। यह भी आरोप है कि विरोध करने पर सपा के जिला पंचायत अध्यक्ष प्रत्याशी रवि त्यागी को कमरे में बंद कर पीटा गया है।
सोनभद्र में सपाइयों ने पुलिस के पक्षपातपूर्ण रवैये से आक्रोशित होकर कलेक्ट्रेट गेट पर हंगामा शुरू कर दिया। बवाल उस समय शुरू हुआ जब नगवा के सदस्य विज्ञान भारती को पुलिस ने कलेक्ट्रेट गेट पर रोक दिया।
मुजफ्फरनगर में निर्दलीय जिला पंचायत अध्यक्ष प्रत्याशी सतेंद्र बालियान ने सरकार पर वोटिंग में धांधली का आरोप लगाया है। उन्होंने केंद्रीय मंत्री संजीव बालियान पर प्रशासन पर दबाव बनाने का आरोप लगाया है। इसको लेकर भारतीय किसान यूनियन और राष्ट्रीय लोकदल के कार्यकर्ता प्रदर्शन कर रहे हैं।
अयोध्या में कलेक्ट्रेट स्थित मतदान स्थल पर सपा और भाजपा कार्यकर्ताओं के बीच भिड़ंत हुई है। आरोप है कि सपा के जिला पंचायत सदस्य मान सिंह वांटेड हैं। वे सपा के कुछ सदस्यों के साथ वोट डालने पहुंचे थे। जिस पर भाजपा कार्यकर्ताओं ने विरोध जताया तो मामला मारपीट तक पहुंच गया। हंगामा बढ़ने पर यहां पुलिस ने लाठी चार्ज कर दोनों पक्ष के समर्थकों को खदेड़ा। इस दौरान भाजपा जिला पंचायत अध्यक्ष प्रत्याशी रोली सिंह के देवर अंकुर सिंह घायल हुए।
बरेली में वोटिंग के दौरान सपा कार्यकर्ता पुलिस कर्मियों से भिड़ गए। आरोप है कि कुछ सपाई अपने वोटरों का इंतजार कर रहे थे। इसी बीच इंस्पेक्टर मनोज कुमार उनसे गाली-गलौज करने लगे। आरोप यह भी है कि पुलिस लगातार वोटरों को वोट करने से रोक रही है।

इन जिलों में कांटे की टक्कर :

सबसे कांटे की टक्कर जौनपुर जिले में है। यहां भाजपा की सहयोगी अपना दल एस के प्रत्याशी और तीन अन्य उम्मीदवार मैदान में हैं। पूर्व सांसद बाहुबली धनंजय सिंह की पत्नी श्रीकला भी इनमें शामिल हैं। प्रतापगढ़, औरैया, अयोध्या, मुजफ्फरनगर, मुरादाबाद, रामपुर में कांटे की टक्कर है।

भाजपा-सपा दोनों जोड़-तोड़ में जुटे :

यूपी में 53 सीटों पर शनिवार को वोटिंग हुई। उन पर ज्यादातर भाजपा और सपा आमने-सामने हैं। इनमें से 37 जिला पंचायत सीटें ऐसी हैं, जहां पर सिर्फ दो-दो उम्मीदवार ही चुनाव मैदान में हैं। दोनों ही दल के नेता अपनी-अपनी जीत के लिए जोड़-तोड़ में जुटे रहे। देर शाम तक जिला पंचायत अध्यक्ष के नतीजे घोषित कर दिए जाएंगे।

36 जिलों में सपा आगे लेकिन यहां भाजपा की नजर बागियों पर :

निर्विरोध चुनावों के बाद भी बचे हुए 53 जिलों में से समाजवादी पार्टी 36 जिलों में भाजपा से आगे है। हालांकि, कई जगह समाजवादी पार्टी का गणित कहीं निर्दलीय तो कहीं बागी बिगाड़ रहे हैं। बहरहाल, समाजवादी पार्टी अभी तक इटावा में ही निर्विरोध जीत सकी है। बाकी 21 में भाजपा ने जीत दर्ज की है। हालांकि, पार्टी का दावा है कि भाजपा ने सत्ता पक्ष का दुरुपयोग कर जिला पंचायत अध्यक्ष की कुर्सी पर कब्जा किया है। वहीं भाजपा 53 में से सिर्फ 8 जिलों में समाजवादी पार्टी से आगे हैं।

2021-03-04
a

Related Articles

Back to top button
x

COVID-19

India
Confirmed: 33,347,325Deaths: 443,928