2021-03-04
a
भोपाल

होशंगाबाद में जमकर बारिश हुई, आज बुधवार को जबलपुर में भारी वर्षा के आसार

भोपाल। बंगाल की खाड़ी में कम दबाव का क्षेत्र बन गया है। साथ ही मानसून ट्रफ का एक छोर भी बंगाल की खाड़ी में पहुंच गया है। इस वजह से शिथिल हुआ मानसून एक बार फिर सक्रिय हो गया है। मौसम विज्ञानियों के मुताबिक बुधवार को प्रदेश के अधिकांश जिलों में कहीं-कहीं बौछारें पड़ने का सिलिसला शुरू होने के आसार है। मौसम विज्ञानियों के मुताबिक जबलपुर, होशंगाबाद संभागों के जिलों में कहीं-कहीं भारी बारिश भी हो सकती है।
मौसम विज्ञान केंद्र से मिली जानकारी के मुताबिक मंगलवार सुबह साढ़े आठ बजे से शाम साढ़े पांच बजे तक होशंगाबाद में 51, सागर में 28, जबलपुर में 17.7, उमरिया में 15, मलाजखंड में आठ, नरसिंहपुर में छह, पचमढ़ी में पांच, सतना में चार, दमोह में तीन, बैतूल में एक, भोपाल में 0.4, इंदौर में 0.1 मिलीमीटर बारिश हुई। मौसम विज्ञान केंद्र के मुताबिक बंगाल की खाड़ी में उड़ीसा तट के पास एक कम दबाव का क्षेत्र बन गया है। मानसून ट्रफ का पश्चिमी छोर हिमालय की तराई में है, जबकि पूर्वी छोर बंगाल की खाड़ी में बने कम दबाव के क्षेत्र तक बना हुआ है। इसके अतिरिक्त एक पश्चिमी विक्षोभ पाकिस्तान पर सक्रिय है। इन तीन वेदर सिस्टम के सक्रिय रहने से बड़े पैमाने पर नमी के आने का सिलसिला शुरू हो गया है। इस वजह से पूरे मध्यप्रदेश में अच्छी बारिश होने के आसार बन गए हैं। साहा के मुताबिक बंगाल की खाड़ी में बने कम दबाव का क्षेत्र पश्चिम-उत्तर-पश्चिम दिशा में आगे बढ़ रहा है। इसके प्रभाव से जबलपुर, शहडोल, भोपाल, होशंगाबाद, इंदौर, सागर, ग्वालियर, चंबल संभागों के जिलों में बौछारें पड़ने की संभावना है। इस दौरान होशंगाबाद, जबलपुर संभागों के जिलों में कहीं-कहीं भारी बारिश भी हो सकती है।
2021-03-04
a

Related Articles

Back to top button
x

COVID-19

India
Confirmed: 33,347,325Deaths: 443,928